कोरोना: बाहर से आने वाले संक्रमित नहीं दे रहे सही जानकारी, जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए हो रही परेशानी

0
4

गैर राज्यों से गोरखपुर आने वाले कोरोना संक्रमित स्वास्थ्य विभाग को सही जानकारी नहीं दे रहे हैं। ट्रैवेल हिस्ट्री से लेकर अन्य जानकारियां छिपा रहे हैं। इससे बीआरडी मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी विभाग की टीम को परेशानी हो रही है। सटीक जानकारी नहीं होने की वजह से जीनोम सीक्वेंसिंग से लेकर अन्य जांचों में दिक्कत आ रही है।


जानकारी के मुताबिक, जिले में कोरोना मरीजों की संख्या कम हो गई है। पिछले 20 दिनों से संक्रमितों का आंकड़ा इकाई में आकर सिमट गया है, लेकिन गैर राज्यों से आने वाले लोग कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। ये लोग ट्रैवेल हिस्ट्री और परिवार की जानकारियां, पहले से कोई बीमारी है या नहीं आदि की सही जानकारी नहीं दे रहे हैं।

माइक्रोबायोलॉजी विभागाध्यक्ष डॉ. अमरेश सिंह ने बताया कि जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए मरीज की पूरी जानकारी जरूरी होती है। पुरानी बीमारी से लेकर परिवार के सदस्य तक की जानकारी देनी होती है। मरीज की ट्रैवेल हिस्ट्री, उसके संपर्क में आने वाले लोगों के नाम, वह किस रास्ते से आया आदि की भी जानकारी देनी होती है।

 

अधिकतर मरीज इन जानकारियों को साझा नहीं कर रहे हैं। जबकि, शासन से निर्देश है कि मुंबई, केरल, त्रिपुरा, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश जैसे राज्यों से आने वाले लोग यदि पॉजिटिव मिलते हैं, तो उनकी जीनोम सीक्वेंसिंग की जांच कराई जाए।

Source- www.amarujala.com

Previous articleगोरखपुर: पुलिस अधिकारियों की निगरानी में जल्द पूरी होंगी लंबित विवेचनाएं, एडीजी ने जारी किया आदेश
Next articleगोरखपुर: जलभराव के चलते ट्रिपल-सी की परीक्षा स्थगित, परीक्षार्थियों ने किया हंगामा