निखरेगा हुनर, चमकेगा कारोबार: टेराकोटा व रेडीमेड गारमेंट के कारीगरों का 10 दिवसीय प्रशिक्षण शुरू, मिलेगी फ्री टूलकिट

0
0

प्रदेश के एमएसएमई राज्य मंत्री चौधरी उदयभान सिंह ने कहा कि एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी) में शामिल हरेक शिल्प व उद्यम को सरकार हरेक तरह की सुविधाएं व संसाधन मुहैया करा रही है। प्रदेश सरकार द्वारा जिले की ओडीओपी में शामिल किए गए टेराकोटा माटी शिल्प और रेडीमेड गारमेंट सेक्टर को और ऊंचाई मिलने जा रही है। दोनों सेक्टरों में शिल्पियों व कारीगरों का हुनर निखारकर उनके कारोबार को चमकाने की तैयारी जारी है।

सोमवार को टेराकोटा व रेडीमेड गारमेंट के कारीगरों को प्रशिक्षण कर अपनी विधा में सिद्धहस्त बनाने के लिए ओडीओपी योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश डिजाइन एवं शोध संस्थान लखनऊ की ओर से नकहा नंबर एक में 10 दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया किया। शुभारंभ एमएसएमई राज्य मंत्री चौधरी उदयभान सिंह ने किया।

प्रशिक्षण कार्यशाला का शुभारंभ करते हुए प्रदेश सरकार के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री चौधरी उदयभान सिंह ने कहा कि सरकार ओडीओपी के तहत चयनित शिल्प/उद्यम के लिए हर प्रकार की सुविधा व संसाधन दे रही है। इससे जुड़कर अपने गांव-घर से ही कारोबार को नई ऊंचाई दी जा सकती है। शिल्पकार व कारीगरों की आत्मनिर्भरता के लिए ओडीओपी योजना एक वरदान की तरह है।

इस मौके पर उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन एंड रिसर्च की अध्यक्ष क्षिप्रा शुक्ला, उद्योग उपायुक्त रवि कुमार शर्मा ने ओडीओपी के तहत सरकार की तरफ से मिल रही सेवाओं व सुविधाओं की से जानकारी दी। प्रशिक्षण के बाद शिल्पियों, कारीगरों को सरकार की तरफ से टूलकिट भी दिया जाएगा।

 

Source- www.amarujala.com

Previous articleगोरखपुर: फरेन नाले में डूबे युवक का शव मिला, दोस्तों के साथ गया था नहाने