सावधान: सोने के बाद भी नहीं दूर हो रही थकान, ये भी हो सकता है कमजोर इम्यून का संकेत

0
9

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार गिरावट आ रही है। इसे बावजूद भी लोग बचाव के तरीके अपना रहे हैं। अब कोरोना की तीसरी वेब आ रही है। ऐसे में दो गज की दूरी, मास्क और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी हो गया है।

इन तीन चीजों के अलावा एक और चीज है जो आपके शरीर को किसी भी बीमारी की चपेट में आने से बचाने में कारगर है, और वो है रोग प्रतिरोधक क्षमता। गोरखपुर जिला चिकित्सालय के डॉक्टर राजेश कुमार ने इन चार लक्षणों को देखते ही डॉक्टर की सलाह लेने की बात कहते हैं…  

  • डॉक्टर के अनुसार, कई लोगों के ऊपर बदलते मौसम का असर सबसे पहले होता है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार अगर किसी व्यक्ति को एक साल में 4 से अधिक बार खांसी जुकाम होता है तो ये कमजोर इम्यूनिटी का संकेत हो सकता है।
  • अगर किसी को सोने के बाद भी थकान महसूस होती है। तो ये भी इम्यूनिटी कमजोर होने का एक संकेत है। कमजोर इम्यून सिस्टम को ज्यादा ऊर्जा की जरूरत होती है। रात को कम नींद आना और दिन भर सिर भारी भारी लगना भी कमजोर इम्यूनिटी का संकेत है।
  • अगर किसी को बार-बार लूज मोशन हो रहा है या कब्ज की समस्या आ रही है तो ये कमजोर इम्यून सिस्टम का संकेत है।
  • वहीं अगर किसी के मुंह में लगातार छाले निकल रहे हैं तो ये भी इम्यून सिस्टम कमजोर होने का एक संकेत है।

 

Source- www.amarujala.com

Previous articleयूपी: कन्नौज से साथ आया दोस्त नकदी लेकर फरार, जांच में जुटी पुलिस
Next articleरज्जू भैया राज्य विश्वविद्यालय में मेरिट से प्रवेश की तैयारी